divyahimachal

मेष :  आज विवाद से बचें, अन्यथा परिवार के सदस्यों के साथ कलह के अवसर आएंगे। खाने-पीने में सावधानी रखें, वरना आपका स्वास्थ्य खराब हो सकता है। आज समय से भोजन भी नहीं मिलेगा। व्यर्थ में खर्च हो सकता है। घर में तथा कार्यक्षेत्र में समझौते से भरा रवैया अपनाना लाभदायक साबित होगा। वृषभ : आपका

चंडीगढ़ में कोरोना वायरस संक्रमण से मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है। बुधवार को कोरोना संक्रमण से शहर में 14 लोगों की मौत दर्ज...

कोरोना के कहर से जूझ रहे देश को राहत दिलाने के लिए हिमाचल जी जान से जुट गया है। एशिया के फार्मा हब बद्दी में इस समय दिन-रात धड़ाधड़ जीवनरक्षक दवाएं तैयार की जा रही है। यही दवाएं देश भर के कोरोना संक्रमितों और आम लोगों को इम्यून करके स्वास्थ्य लाभ पहुंचाई जा रही हैं। बात चाहे कोरोना के उपचार के लिए कारगर मानी जा रही दवाओं व इंजेक्शन की हो या अन्य गंभीर बीमारियों के उपचार में इस्तेमाल होने वाली दवाओं की। हिमाचल के दवा उद्योग 24 घंटे उत्पादन कर देश भर की दवा जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। मौजूदा समय में यहां के उद्योग कोरोना संक्रमितों के उपचार में प्रयोग लाई जा रही दवाओं मसलन रेमडेसिविर, फेविपिराविर, डॉक्साईक्लीन, पैरासिटामोल, एजीथ्रोमाइसिन, आइवरमेक्टिन, मल्टीविटामिन का धड़ाधड़ उत्पादन कर रहे हैं। बता दें कि देश में बिक रही हर तीसरी दवा हिमाचल के उद्योगों में निर्मित हुई है, घरेलू बाजार में प्रदेश के दवा उद्योगों की हिस्सेदारी करीबन 35 फीसदी है। यही वजह रही है कि कोरोना की दूसरी लहर से ऊपजे संकट के बीच देश की निगाहें एक बार फिर प्रदेश के दवा उद्योगों पर जा टिकी है।  दरअसल पहली लहर के दौरान हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा का रिकार्ड उत्पादन कर प्रदेश के  दवा उद्योगों ने...