बारिश-तूफान-ओलों ने डराए लोग

By: May 13th, 2021 12:12 am

खनियारा और मकलोडगंज समेत कई जगहों पर हुई ओलावृष्टि, पानी से खड्डें लबालब

सिटी रिपोर्टर- धर्मशाला
कांगड़ा के मुख्यालय धर्मशाला में बुधवार को दोपहर तक कड़ाके की धूप के बाद अचानक गडग़ड़ाहट और ओलावृष्टि सहित बारिश और तूफान ने सबको डरा दिया। खनियारा और मकलोडगंज समेत अन्य क्षेत्रों में जहां ओलावृष्टि हुई, वहीं धौलाधार की ऊंची चोटियों पर ताजा हिमपात भी हुआ है। निचले क्षेत्रों में जोरदार बारिश होने की वजह से धर्मशाला में बहने वाली सभी खड्डें और नाले पानी से लबालब भर गए और सड़कों पर कूड़ा बहने लगा। सीवरेज की नालियों की गंदगी भी तेज बारिश की वजह से सड़कों पर बहने लगी। अचानक गडग़ड़ाहट के साथ आए भारी तूफान, बारिश और ओलावृष्टि को देखकर किसान और बागबान सहित आम आदमी बुरी तरह से भयभीत हुए। मई के माह में जहां पसीने छूटते हैं, वहां दिसंबर जैसी ठंड का अनुभव होने लगा।

बेवक्त की बारिश और ओलावृष्टि ने फलदार पौधों और किसानों की किचन गाडर्निंग को भी बहुत अधिक नुकसान पहुंचाया है। तूफान के साथ ओलावृष्टि ने छोटे पौधों को खूब नुकसान किया है। इस माह के दौरान लोगों ने जो भी छोटे पौधों की रोपाई की थी, वह बुरी तरह से प्रभावित हुई है। वहीं निचले क्षेत्रों में गेंहू की कटाई और थ्रैशिंग का काम भी बहुत अधिक प्रभावित हुआ है। आम के साथ अन्य फलदार पौधे जिनका फलन हो रहा था, वह भी इस जोरदार बारिश से बहुत अधिक प्रभावित हुआ है। मई के महीने में मानसून की तरह आई बारिश से हर कोई हैरान है। हर कोई यह कहता नजर आया कि एक तरफ दुनिया में कोरोना ने हाहाकार मचाया हुआ है, वहीं दूसरी तरफ प्रकृति भी दिन प्रतिदिन अपना रौद्र रूप दिखा रही है। हालांकि शाम के समय पांच तक बारिश होती रही।