कोरोना कफ्र्यू में खीर गंगा घाट बना हरिद्वार

By: May 13th, 2021 12:02 am

अस्थियां प्रवाहित करने पहुंच रहे लोग, विधायक मुलखराज ने दौरा कर लिया व्यवस्था का जायजा

कार्यालय संवाददाता – बैजनाथ
शिव भूमि बैजनाथ में बिनवा नदी से सटा ऐतिहासिक खीर गंगा घाट इस कोरोना काल में आजकल अस्थियां प्रवाहित करने के लिए लोगों के पास एक मात्र विकल्प बना हुआ है। कोरोना काल में जहां अचानक हो रही मौतों के कारण अधिकतर लोग हरिद्वार जाने में असमर्थ हैं। ऐसे में बैजनाथ के खीरगंगा घाट में प्रतिदिन दर्जनों लोग अपने परिजनों को अस्थियां प्रवाहित करने पहुंच रहे हैं। मगर इस घाट में सुविधाओं का टोटा है। इस गंगा घाट में अस्थियां प्रवाहित करने लोग आज से नहीं अलबत्ता दशकों बर्षों से आते हैं। जो लोग सामर्थबान नहीं, गरीब हैं। जो हरिद्वार नहीं जा सकते हैं, वह बर्षों से इसी घाट पर आ कर अस्थियां प्रवाहित करते हैं।

इसी को लेकर मंगलवार को बैजनाथ के विधायक मुलख राज प्रेमी ने अधिकारियों के साथ खीरगंगा घाट का औचक निरीक्षण किया व बैजनाथ के सबसे प्रसिद्ध खीरगंगा मे व्यवस्था का जायजा लिया। कोरोना काल में आस पास के क्षेत्रों के लोग जो आजकल हरिद्वार न जा कर बैजनाथ के खीरगंगा घाट मे अपने स्वर्गीय रिश्तेदारों की आस्थियां जल प्रवाहित करने बड़ी तादात में आ रहे हैं। विधायक मुलखराज प्रेमी ने नगर पंचायत के सचिव प्रदीप दीक्षित को निर्देश दिए हंै कि यहां आ रही जनता को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो, उसकी व्यवस्था की जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि आसपास की झाडिय़ों को काटा जाए। साथ ही यहां पर लाइट की व्यवस्था की जाए व बैठने के लिए बेंच लगाए जाएं। उन्होंने बैजनाथ के डीएसपी से भी कहा कि यहां पर लोगों में आपस में उचित दूरी की पालना की जाए। इस मौके पर मंडल अध्यक्ष भीखम कपूर भी मौजूद रहे।