कोरोना से निपटने को केंद्र-प्रदेश सरकार तैयार

By: May 11th, 2021 12:12 am

दिल्ली से केंद्रीय राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने जिला प्रशासन-स्वास्थ्य विभाग के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग में की समीक्षा

दिव्य हिमाचल ब्यूरो – धर्मशाला
केंद्र तथा राज्य सरकार ने कोविड से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। जिलों में ऑक्सीजन, पीपीई किट्स तथा आवश्यक दवाइयों नियमित तौर पर उपलब्ध करवाई जा रही है। केंद्रीय राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को दिल्ली से विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कांगड़ा जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के साथ कोविड की समीक्षा को लेकर आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। कोविड संक्रमित रोगियों के अस्पताल में उपचार तथा उचित देखभाल का पूरा ध्यान रखा जाए तथा घरों में ही आसोलेशन में रह रहे कोविड संक्रमित रोगियों के लिए दवाई तथा दूरभाष के माध्यम से नियमित संपर्क किया जाए, जिससे कोविड संक्रमित रोगियों का मनोबल बना रहे। अनुराग ठाकुर ने कहा कि कोविड संक्रमण से आम जनमानस के बचाव के लिए जागरूक भी किया जाए तथा लोगों को सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग करने, हाथ बार बार धोने के लिए प्रेरित किया जाए। इसके साथ ही टेस्टिंग क्षमता में भी बढ़ावा किया जाए। जिससे कोविड के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

केंद्रीय राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि कोविड वैक्सीनेशन के लिए लोगों को जागरूक किया जाए तथा दूसरे चरण में 18 से 45 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों को भी व्यवस्थित तरीके से कवर किया जाए, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग लाभान्वित हो सकें। इस अवसर पर केंद्रीय राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने कांगड़ा जिला में कोविड अस्पतालों तथा कोविड संक्रमित रोगियों के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की। उन्होंने सरकार और जिला प्रशासन द्वारा किए गए अन्य प्रबंधों के बारे में भी विस्तार से चर्चा की। इससे पहले उपायुक्त राकेश प्रजापति ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए कहा कि कांगडा जिला में जोनल अस्पताल धर्मशाला, मेडिकल कालेज टांडा, आयुर्वेदिक कालेज पपरोला सहित आठ निजी अस्पतालों में कोविड मरीजों के उपचार की सुविधा आरंभ हो चुकी है, जबकि परौर में मेकशिफ्ट हास्पिटल भी तैयार किया जा रहा है, जिसमें 15 मई तक उपचार की सुविधा मिलना आरंभ हो जाएगी। कांगड़ा जिला में ऑक्सीजन की किसी भी तरह की कमी नहीं है। धर्मशाला के जिला परिषद हाल में ऑक्सीजन सिलेंडर का गोदाम भी स्थापित किया गया है, जबकि पालमपुर में बद्दी से नियमित तौर पर ऑक्सीजन की सप्लाई आ रही है। इस अवसर पर सीएमओ गुरदर्शन गुप्ता ने भी कांगड़ा जिला में कोविड-19 को लेकर विस्तार से अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की गई।