हीरा है सदा के लिए। यह टैग लाइन आपने विज्ञापनों में कई बार सुनी होगी। हजारों सालों तक धरती के गर्भ में तपने के बाद कोई-कोई पत्थर ही हीरे का रूप लेता है। मगर, अब हीरा खदानों से नहीं माइक्रोवेव से भी तैयार हो रहा है। वह भी असली हीरे की तरह भौतिक और रासायनिक