मार्च में 1.24 लाख करोड़ था एजेंसियां — मुंबई वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) ने नया रिकार्ड हासिल किया है। अप्रैल महीने में कुल एक लाख 41 हजार 384 करोड़ रुपए का कलेक्शन हुआ है। जब से जीएसटी लागू हुआ है, यानी 2017 जुलाई से, तब से यह पहली बार हुआ है। हालांकि मार्च में

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — नई दिल्ली कोरोना से जूझ रहे देश में रविवार को चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होंगे। इनमें पश्चिम बंगाल की 294, असम की 126, केरल की 140, तमिलनाडु की 234 और पुड्डुचेरी की 30 सीटों पर हुए चुनाव का परिणाम शामिल है।

दिल्ली हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार को निर्देश दिया है कि वह दिल्ली को आबंटित ऑक्सीजन में से शनिवार को ही 490 मीट्रिक टन प्राणवायु की आपूर्ति करे। कोर्ट ने साफ कहा कि ऐसा न करने पर उसे अवमानना की कार्रवाई का सामना करना होगा। अदालत ने बत्रा अस्पताल में 12 लोगों की मौत का संज्ञान लिया और सरकार से कहा कि बस बहुत हो गया। हाई कोर्ट ने केंद्र से पूछा कि आपको क्या लगता है

कोरोना से जंग में हिंदुस्तान को मिला एक और हथियार, संक्रमण के खिलाफ 90 फीसदी से ज्यादा असरदार है स्पूनतिक-वी दिव्य हिमाचल ब्यूरो — नई दिल्ली कोरोना संकट और वैक्सीन की कमी से जूझ रहे देश के लिए अच्छी खबर आई है। रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-वी की पहली खेप शनिवार को हैदराबाद पहुंची। ये वैक्सीन कोरोना

कोरोना तबाही का और कितना खतरनाक मंजर दिखाएगा, यह किसी को नहीं पता। भारत दुनिया का ऐसा पहला देश बन गया है, जहां एक दिन में कोरोना के चार लाख से अधिक पॉजिटिव केस मिले हैं। यह अपने आप में डराने वाला रिकार्ड है। देश में शुक्रवार को अब तक के सर्वाधिक चार लाख 02 हजार 014 नए मामले सामने आए। यही नहीं, यह आंकड़ा सबसे ज्यादा संक्रमित अमरीका में मिले नए मरीजों से सात गुना है। वहां शुक्रवार को 58,700 केस आए।  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, शुक्रवार को एक दिन में 3525 लोगों ने कोरोना की वजह से दम तोड़ दिया। उधर करीब तीन लाख (2 लाख 99 हजार 198) संक्रमितों ने कोरोना को मात दे दी। विशेषज्ञों के आकलन के अनुसार, भारत के कोरोनो वायरस मामले अगले सप्ताह तीन से पांच मई के बीच चरम पर हो सकते हैं। संक्रमण पर नजर रखने के लिए गठित विज्ञानियों के समूह के प्रमुख एम विद्यासागर के अनुसार हमारा अनुमान है कि अगले सप्ताह तक, देश भर में  रोज बढ़े हुए कोरोना के मामले सामने आएंगे। पूरी दुनिया में 8.66 लाख नए मरीजों की पहचान हुई है। इनमें से लगभग आधे (46 फीसदी) भारत में ही पाए गए।

हिमाचल प्रदेश में पहली मई को प्रवेश करने वाले लोगों की संख्या 7665 है। यह लोग शनिवार को प्रदेश में आए जिनको सीमा पर पूरी पड़ताल के बाद भीतर लाया गया है। इसके साथ राज्य में 22021 लोगों ने आने के लिए आवेदन किया है जिनका पंजीकरण सरकार के ई-पोर्टल पर हो चुका है। हिमाचल वापस लौटने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने वालों में शनिवार को कुल 7665 लोग प्रदेश के अलग-अलग जगहों पर लौटे। प्रदेश की सीमाओं पर नाकाबंदी है और वहां पर एंट्री करने वालों का पूरा रिकॉर्ड रखा जा रहा है। प्रदेश सरकार ने वापस लौटने वाले हिमाचलियों के लिए वैब पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की सुविधा दे रखी है जिसमें धड़ाधड़ पंजीकरण हो रहा है। शनिवार शाम तक इस पोर्टल के माध्यम से 22021 लोगों ने अपना पंजीकरण करवा लिया है। प्रदेश के लोग काफी संख्या में दूसरे राज्यों में रहते हैं और अब वहां के गंभीर हालातों को देखते हुए यह लोग वापस लौटने के इच्छुक हैं। बड़ी संख्या में आने वाले दिनों में यह लोग वापस लौटेंगे। पिछले साल कोरोना की पहली लहर में भी लाखों हिमाचली घर लौटे थे मगर हालात सुधरने के बाद अधिकांश लोग फिर से कामकाज के लिए चले गए।

कांगड़ा जिला के किसी भी अस्पताल में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। अब यहां बद्दी से ऑक्सीजन की नियमित सप्लाई शनिवार से शुरू हो गई है। उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति ने बताया