साहब! सचिव कर रहा मनमानी

By: Sep 12th, 2012 12:08 am

रामपुर बुशहर — उपतहसील ननखड़ी के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत शोली में पंचायत सचिव कि मनमानी करीब डेढ़ हजार ग्रामीणों पर भारी पड़ रही है। उक्त पंचायत सचिव का स्थानांतरण तो पांच माह पूर्व हो चुका है, लेकिन उसने पंचायत का किसी भी तरह का कागजी रिकार्ड अभी तक संबंधित विभाग को नहीं सौंपा है। इससे जहां एक ओर पंचायत में विकास के कार्य रुके पड़े हंै, वहीं दूसरी ओर आए दिन लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि पंचायत प्रधान व अन्य प्रतिनिधि इस बारे कई बार खंड विकास अधिकारी से भी गुहार लगा चुके हंै, लेकिन अभी तक स्थिति जस की तस बनी हुई है। अपनी इस समस्या को लेकर शोली पंचायत के पदाधिकारी व सदस्य मंगलवार को उपमंडलाधिकारी रामपुर केआर सहजल से मिले। पंचायत प्रधान कमलेश कुमारी व उपप्रधान दिनेश शर्मा की अगवाई मंे आए पंचायत प्रतिनिधियों ने जानकारी देते हुए बताया कि शोली पंचायत में तैनात पंचायत सचिव सवरन दास का स्थानांतरण बीते पांच माह पूर्व खड़ाहण पंचायत के लिए हो चुका है, जहां पर उसने कार्यभार भी संभाल लिया है। उन्होंने बताया कि इसके बावजूद भी उक्त पंचायत सचिव ने शोली पंचायत का किसी भी तरह का कार्यालय रिकार्ड नहीं सौंपा है, जिससे पंचायत के विभिन्न कार्यों को करवाने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यहां तक कि मनरेगा के मजदूरों कि दिहाड़ी व अन्य वित्तीय कार्यों तथा पंचायत के अन्य विकासशील कार्यों को करवाने में भी भारी दिक्कतें उठानी पड़ रही है। गौर रहे कि शोली पंचायत मे पंचायत सचिव न होने की वजह से पंचायत के खनोग, शोली, कडेली, शरोग, करालटा, शुआ, गढ़ासू, शलार, रडेणा, धरागला, लौहटी, चौकी, खलेच, नोटी, रटाल, लंबीधार व अन्य आसपास के गांवों के करीब 1500 से अधिक लोगों को पंचायतीय कार्यों को करवाने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। एसडीएम केआर सहजल ने कहा कि नायब तहसीलदार को इस बारे में कार्रवाई करने के आदेश जारी कर दिए हैं। मौके पर पहुंचकर स्थिति को सुलझा दिया जाएगा।